छत्तीसगढ़बिलासपुर संभाग

एफआईआर में जमीन को प्लेन करवाने का जिक्र, इधर घरों पर चला दिए बुल्डोजर

दयालबंद में दो पक्षों के बीच मारपीट

बिलासपुर। न्यायधानी के दयालबंद में जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच मारपीट की घटना घटी है। कोतवाली पुलिस ने दोनों पक्षों की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली है। लेकिन जिन लोगों के घरों पर बुल्डोजर चलाए गए है उन लोगों का कहना है बिना न्यायालय के आदेश, बिना नोटिस के घरों पर बुल्डोजर चलाया गया है।


बता दे कि श्रीमती साधना के आरोप मुताबिक आज शाम लगभग 05:00 बजे पुरानी रंजीश एवं जमीन विवाद को लेकर पडोसी गीरधारी गोरख एवं उनके परिजनो ने मां बहन की अश्लील गाली गुप्तार करते हुये उनके साथ हाथ मुक्का से मारपीट किये है मारपीट होता देख श्रीमती साधना की बेटी उषा रजक,बहु सुभद्रा रजक और उनके पति बीच बचाव करने पहुंचे तो उन्हें भी मां बहन की अश्लील गाली गुप्तार करते हुये हाथ मुक्का से मारपीट कर जान से मारने की धमकी देते हुये मारपीट किये है । इतना ही नही घर के बाथरूम को तोड फोड कर नुक्सान पहुंचा दिए है जिससे श्रीमती साधना के परिवार को 70,000/- रूपये का नुक्सान हुआ है

दूसरे पक्ष किशोर के आरोप मुताबिक आज शाम लगभग 05:00 बजे वे जे सी बी से अपने जमीन को प्लेन करवा रहे थे, तभी पुरानी रंजीश एवं जमीन विवाद को लेकर पडोसी चिंतामणी रजक एवं उनके परिवार के अन्य सदस्यो के द्वारा मां बहन की अश्लील गाली गुप्तार करते हुये पत्थर से फेक कर मारे है तथा जान से मारने की धमकी दिये है । पत्थर से फेक कर मारने से किशोर,अमन नामदेव,राहुल गोरख,सानू गोरख और पंकज गोरख को चोटे आई है पत्थर से जे सी बी के कांच को भी तोड दिया गया है जिससे उन्हें 20,000/- रूपये का नुक्सान हुआ है

उपरोक्त दोनों पक्षो की शिकायत पर कोतवाली पुलिस ने रजक परिवार के खिलाफ धारा 294,323,34,427 व 506 कायमी की है और किशोर की शिकायत पर धारा 294,323, 336,34,427 व 506 के तहत अपराध कायमी की है।

सुलगते सवाल

  • जिस जमीन पर बुल्डोजर चलाया गया है उस जमीन पर काबिज़ ब्यक्तियों की स्थाई संपत्ति को क्या न्यायालय के आदेशानुसार क्षतीग्रस्त किया गया ?
  • अगर न्यायालय के आदेशानुसार तोड़फोड़ किया गया तो फिर मारपीट की स्थिति निर्मित क्यों हुई?

थाना प्रभारी को तोड़फोड़ की नही थी जानकारी

बता दे कि तोड़फोड़ की जानकारी पुलिस प्रशासन को नही दी गई है। कोतवाली थाना प्रभारी से दयालबंद में तोड़फोड़ के संबन्ध में जानकारी मांगी गई तो उन्होंने महाकाल में ड्यूटी होना बताया और मामले से अंजान बनी रही

दोपहर को पुलिस पहुची थी दयालबंद मौके पर

बताया जा रहा है दयालबंद में जहाँ तोड़फोड़ को लेकर मारपीट की घटना घटी है वहाँ दोपहर को पुलिस पहुची थी जिसके बाद देर शाम मारपीट की घटना घटने के बाद फिर मौके पर पुलिस को आना पड़ा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button